नई दिल्ली: वॉरेन बफेट: दिग्गज निवेशक वैरेन बफे (वारेन बफेट) ने अपने उत्तराधिकारी को लेकर लगाई जा रही अटलओं पर विराम लगा दिया है। वैरेन बफे ने उस नाम का खुलासा कर दिया है जो उनके अरबों के कारोबार को संभालेगा, यानी अपने उत्तराधिकारी के नाम से पर्दा उठा दिया है। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक, बीफ 104 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया के eight वें सबसे बड़े रईस हैं।

ये वेन बेफ के उत्तराधिकारी होंगे!

वैरेन बफे ने कहा कि अगर उन्हें बर्कलैंड हैथवे (बर्कशायर हैथवे इंक) के सीईओ का पद छोड़ना पड़ता है तो कंपनी के नॉन इंश्योरेंस बिजनैस के वाइस चेयरमैन ग्रेग ऐबाल (ग्रेगेल) उनके संभावित उत्तराधिकारी हो सकते हैं। बर्कल्फ हैथवे का कुल असेट 630 अरब डॉलर है। 90 साल की उम्र पार कर चुके वैरेन बफे ने कहा कि बोर्ड इस प्रस्ताव पर सहमति है कि अगर उन्हें कुछ होता है तो 58 साल के ऐबाल उनके उत्तराधिकारी के तौर पर सबसे ज्यादा संभावित उम्मीदवार हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें- यूपी में आज से जाम टकराना और एक्सप, 10-40 रुपये की नर्वस हो गई शराब, कोविद सेस लगाया

उत्तराधिकारी की योजना अभी तक गुप्त है

कंपनी में उत्तराधिकारी योजना को गुप्त रखा गया है। हालांकि कंपनी ने निवेशकों को भरोसा दिया है कि उसके पास इसके लिए एक पूरी योजना है। दरअसल बर्कलैंड के वाइस चैयरमैन चार्ली मुंगेर ने शनिवार की सालाना बैठक में कुछ ऐसे के संकेत दिए थे, जिन्हें अबेल को बफे का उत्तराधिकारी बनाए जाने की अटकलों को बल मिला था।

बेफ को हाबिल पर भरोसा क्यों

हाबिल का नाम बेफ़ के उत्तराधिकारी के रूप में काफी लंबे समय से चल रहा है। हाबिल अभी 60 साल के भी नहीं हुए हैं, उनके पास व्यापक अनुभव है। बफे ने कहा, बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स इस बात से सहमत हैं कि अगर आज रात मुझे कुछ हो जाता है तो ग्रेग कल सुबह से कुर्सी संभाल रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी कंपनी में हम सर्वसम्मति से फैसला करते हैं कि अगले दिन तक कुर्सी संभालनी चाहिए।

भारतीय मूल के अजित जैन भी रेस में थे

इस रेज में कंपनी के इंश्योरेंस बिजनेस के वाइस चेयरमैन 69 साल के अजित जैन को भी दावेदार के रूप में देखा जा रहा था। बफे ने उनकी काफी तारीफ की थी। हालांकि, अब बफे का कहना है कि उनके उत्तराधिकारी के चुनाव में उम्र बड़ा फैक्टर था। बेफ ने कहा कि दोनों लोग शानदार हैं, लेकिन किसी के पास 20 साल ज्यादा हैं तो इससे बड़ी बात होती है।

ये भी पढ़ें- 7 वां वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए राहत की खबर! ‘वेतन निर्धारण’ की डेडलाइन 3 महीने के लिए बढ़ी

लाइव टीवी



Source link